पूनम शर्मा, भारतीय राजस्व सेवा, 2006

पूनम शर्मा, भारतीय राजस्व सेवा, 2006
राजकीय प्राथमिक पाठशाला नंबर-1, यमुनानगर, हरियाणा की स्थिति किसी भी अन्य सरकारी विद्यालय से अलग नहीं थी| विद्यालय की पुरानी बिल्डिंग, प्रधानाध्यापक कक्ष, क्लास रूम, शौचालय, पीने के पानी की व्यवस्था और बच्चों के खेल कूद की सुविधा सभी के फोटो अपनी दुर्दशा स्वयं बयां करते हैं| इन परिस्थितियों में भी स्वर्णिम भविष्य के सपने संजोए बच्चों को नई आशा की किरण दिखाई भारतीय राजस्व सेवा, 2006 बैच की अधिकारी पूनम शर्मा ने | पूनम शर्मा ने जब पहली बार इस विद्यालय का निरीक्षण किया तो उनका मन द्रवित हो गया और उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर इस विद्यालय को गोद लेने का निर्णय किया| इनकम टैक्स एसोसिएशन के सहयोग से विद्यालय के मुख्य भवन को ठीक करवाया गया| बालक और बालिकाओं के लिए अलग-अलग शौचालय का निर्माण किया गया| पीने योग्य पानी की व्यवस्था की गई| बच्चों के खेलने के लिए झूलों की व्यवस्था की गई| प्रधानाध्यापक कक्ष तथा क्लासरूम का पुनरुद्धार किया गया और उन्हें आधुनिक बनाया गया| बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए हाइजीन कैंप का आयोजन किया गया| इन सब प्रयासों के परिणाम स्वरुप इस सरकारी विद्यालय का पूर्ण रूप से कायाकल्प हो गया| आज बच्चे एक आधुनिक वातावरण में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं| पूनम शर्मा जी का मानना है कि शिक्षा केवल एक बच्चे के भविष्य का ही निर्माण नहीं करती बल्कि उसके परिवार और आने वाली पीढ़ी को भी विकास की धारा के साथ जोड़ देती है| एक समृद्ध राष्ट्र के निर्माण हेतु गुणवत्तापूर्ण रोजगार उन्मुखी शिक्षा सबसे बड़ी आवश्यकता है| पूनम शर्मा जी ने बताया कि इन कार्यों के लिए विद्यालय को जिले स्तर पर सम्मानित भी किया गया है| सोच बदलो गांव बदलो टीम आपके इन प्रयासों के लिए तहे दिल से धन्यवाद देती है और आपके उज्जवल भविष्य की कामना करती है| हमें विश्वास है अन्य व्यक्ति भी आपके इन कार्यों से प्रेरणा लेकर राष्ट्र निर्माण में सहभागी बनेंगे| जय हिंद

There are comments

  • No Comment Found

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *