प्रोफेसर प्रियानंद अगले [इकोनीड्स फाउंडेशन]

दोस्तों! आज मैं आपका परिचय कराता हूं एक कर्मठ समाजसेवी, पर्यावरणविद् और सोच बदलो गांव बदलो टीम के मार्गदर्शक प्रोफेसर प्रियानंद अगले जी से| आप मूलतः महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर से संबंध रखते हैं और सिविल इंजीनियर योग्यता के साथ औरंगाबाद इंजीनियरिंग कॉलेज में अध्यापन का कार्य कर रहे हैं| आपके द्वारा स्थापित इकोनीड्स फाउंडेशन आज विश्व भर में पर्यावरण संरक्षण और संवर्धन के लिए कार्य कर रहा है| आपके प्रयासों को विश्व स्तर पर मान्यता देते हुए यूनेस्को द्वारा "वाटर डाइजेस्ट अवार्ड 2011" से सम्मानित किया है| आपके संगठन द्वारा पर्यावरण संरक्षण और संवर्धन के लिए इको रेवोल्यूशन मूवमेंट चलाया जा रहा है| इसके साथ-साथ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सेमिनारों का आयोजन भी किया जा रहा है| पिछली सेमिनार का आयोजन नेपाल सरकार के साथ मिलकर काठमांडू में किया गया और आने वाली सेमिनार म्यान्मार में प्रस्तावित है| आपके संगठन द्वारा देश की पहली पर्यावरण को समर्पित सोशल नेटवर्किंग साइट ईकोफेस(ecoface) संचालित है, जो कि पर्यावरण प्रेमियों और पर्यावरण संरक्षण के लिए सक्रिय कार्यकर्ताओं के लिए एक प्लेटफार्म प्रदान करती है| आपके द्वारा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए टेक्नोलॉजी विकसित की गई है जिसको की अपनी नवीनता के लिए पेटेंट दिया गया है| आपने स्मार्ट विलेज धनोरा को डेवलप करने में महत्वपूर्ण योगदान किया है और ग्रामीण विकास का मॉडल देश के सामने प्रस्तुत किया है| आप सोच बदलो गांव बदलो टीम के साथ ग्रामीण भारत के विकास के लिए और समाज में जागृति लाने के लिए कार्य कर रहे हैं| सोच बदलो गांव बदलो टीम आप जैसे महान व्यक्तित्व के साथ काम करके अपने आपको गौरवान्वित महसूस करती है और आपके उज्जवल भविष्य की कामना करती है|

There are comments

  • No Comment Found

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *