ग्रीन विलेज व क्लीन विलेज अवार्ड

महिला सशक्तिकरण विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाशाली बच्चियों शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने, उनका मार्गदर्शन करने, उत्थान कोचिंग संस्थान के माध्यम से कोचिंग दिलाने, बच्चियों में स्वावलंबन और आत्मविश्वास पैदा करने, ग्रामीण महिलाओं के लिए स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने, स्वच्छता और स्वास्थ्य के विषय में जागरूकता पैदा करने इत्यादि कार्यों के माध्यम से संस्था द्वारा महिला सशक्तिकरण के प्रयास किए जा रहे हैं। महिला सशक्तिकरण के प्रयासों को मजबूती देने के लिए टीम द्वारा एक महिला विंग का गठन किया गया है जो महिलाओं की समस्याओं पर विभिन्न प्रकार के सर्वे कर डाटा एकत्रित करने, उनका विश्लेषण करने और उन समस्याओं के समाधान करने हेतु संस्था के समक्ष सुझाव प्रस्तुत करती है। महिलाओं को सम्मान के साथ जीवन जीने हेतु खुले में शौच से मुक्ति हेतु टीम द्वारा जमीनी स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं।

जल संरक्षण व स्वच्छ पेयजल हेतु प्रयास

महिला सशक्तिकरण विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाशाली बच्चियों शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने, उनका मार्गदर्शन करने, उत्थान कोचिंग संस्थान के माध्यम से कोचिंग दिलाने, बच्चियों में स्वावलंबन और आत्मविश्वास पैदा करने, ग्रामीण महिलाओं के लिए स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने, स्वच्छता और स्वास्थ्य के विषय में जागरूकता पैदा करने इत्यादि कार्यों के माध्यम से संस्था द्वारा महिला सशक्तिकरण के प्रयास किए जा रहे हैं। महिला सशक्तिकरण के प्रयासों को मजबूती देने के लिए टीम द्वारा एक महिला विंग का गठन किया गया है जो महिलाओं की समस्याओं पर विभिन्न प्रकार के सर्वे कर डाटा एकत्रित करने, उनका विश्लेषण करने और उन समस्याओं के समाधान करने हेतु संस्था के समक्ष सुझाव प्रस्तुत करती है। महिलाओं को सम्मान के साथ जीवन जीने हेतु खुले में शौच से मुक्ति हेतु टीम द्वारा जमीनी स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं।

वृक्षारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम

ग्रामीण विकास के लिए सबसे महत्वपूर्ण आवश्यकता है- ग्रामीणों की आय में वृद्धि और इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी है - खेती के क्षेत्र में आधुनिक तकनीक का उपयोग और नए तौर-तरीकों को अपनाना। सोच बदलो गांव बदलो टीम के कृषि विशेषज्ञ समय-समय पर अपने लेखों व सेमिनारों के माध्यम से किसानों को इस स्मार्ट व आधुनिक खेती के लिए प्रेरित करने का काम कर रहे हैं। खेती से जुड़े विभिन्न विषयों के साथ पशुपालन, दुग्ध उत्पादन व डेयरी उद्योग जैसे विषयों पर भी चर्चा कर किसानों को प्रोत्साहित किया जाता है।गांव में आधुनिक खेती को प्रोत्साहित करने हेतु सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुंचाने हेतु भी संस्था के द्वारा प्रयास किया जा रहा है।

ग्रीन विलेज-क्लीन विलेज कार्यक्रम

सोच बदलो गांव बदलो संस्था स्वच्छता और पर्यावरण संरक्षण के प्रति जन जागरूकता पैदा करने हेतु "ग्रीन विलेज - क्लीन विलेज" अभियान का संचालन कर रही है। इस अभियान के सफल संचालन के लिए गांव-गांव में कॉर्डिनेटर्स की नियुक्ति की गई है। इस अभियान के प्रमुख उद्देश्य- ग्रामीणों को स्वच्छता के विषय में जागरूक बनाना और समय-समय पर गांव में सफाई अभियान चलाना, ग्रामीणों को शौचालय निर्माण और उसके नियमित उपयोग के लिए प्रोत्साहित करना, सार्वजनिक रास्तों से अतिक्रमण हटाकर उनके चौड़ीकरण के लिए ग्रामीणों को प्रोत्साहित करना, पर्यावरण संरक्षण हेतु पेड़ों की महत्ता बताने के साथ वृक्षारोपण कार्यक्रम का हर वर्ष आयोजन करना, गांव के पुराने जल स्रोतों को पुनर्जीवित करना तथा जल संरक्षण के लिए कार्य करना, पेयजल समस्या के निदान के लिए पारस्परिक सहयोग से पानी की व्यवस्था करना इत्यादि।

27 अगस्त 2018 से 28 अगस्त 2018

कांकरेट गांव में एक मजबूत ग्राम विकास समिति की स्थापना हो चुकी है |

कांकरेट गांव में एक मजबूत ग्राम विकास समिति की स्थापना हो चुकी है | सभी ग्रामवासियों का बहुत अच्छा सहयोग रहा इसी के साथ गांव के कई पहलू पहलुओं को टीम KVS ने आशानी से सुलझा दिया इसी के साथ स्कूल की कई समस्याओं का टीम ने मंच पर ही समाधान...

अधिक पढ़ें

07 अगस्त 2018 से 08 अगस्त 2018

बदलाव की लहर (SBGBT), स्मार्ट गाँव धनोरा

साथियों आज जिले में ग्रामीण क्षेत्र में परिवर्तन लाने के लिए विकास के लिए एक अभियान सा चल रहा है और यह जरूरी भी है किन्ही कारणवश अपना जिला पहले से काफी पिछड़ा था लेकिन आज विकास की ओर अग्रसर है आज रविवार 5 अगस्त 2018 जयवीर पोरवाल सरपंच ग्राम...

अधिक पढ़ें

07 अगस्त 2018 से 08 अगस्त 2018

बदलाव की लहर (SBGBT), स्मार्ट गाँव धनोरा

साथियों आज जिले में ग्रामीण क्षेत्र में परिवर्तन लाने के लिए विकास के लिए एक अभियान सा चल रहा है और यह जरूरी भी है किन्ही कारणवश अपना जिला पहले से काफी पिछड़ा था लेकिन आज विकास की ओर अग्रसर है आज रविवार 5 अगस्त 2018 जयवीर पोरवाल सरपंच ग्राम...

अधिक पढ़ें