08 वां पड़ाव गाँव उमरेह

17 May 2017 to 18 May 2017

नमस्कार सज्जनों,

एक बार फिर, SBGBT की 8वीं यात्रा के भव्य आयोजन की कहानी गाँव उमरेह से आपके समक्ष प्रस्तुत है-

1. उमरेह बाडी तहसील के दक्षिण में 5 किमी दूरी पर अवस्थित विशाल गाँव है| जनसंख्या और संपन्नता की दृष्टि से यह गाँव विशेष वर्चस्व रखता है| यहाँ सभी जाति और धर्म के लोग बडे ही सद्भाव और प्रेम पूर्वक रहते हैं| 1400 घरों वाले इस गाँव की आबादी लगभग 4500 से ऊपर है।

2. गाँव से 1 किमी दूर दक्षिण में विशनिगिरि बाबा का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है! जिसकी ख्याति राजस्थान के अलावा पडौसी राज्यों तक फैली हुई है! यहाँ प्रतिवर्ष भादों के महीने में विशाल लक्खी मेला लगता है| लोगों का अटूट विश्वास है, कि बाबा की भभूत लगाने मात्र से कैंसर जैसी असाध्य बीमारी का निवारण भी संभव है| ऐसे कई चमत्कार यहाँ हमेशा देखने को मिले हैं| यह स्थान गाँव की संस्कृति और धार्मिक प्रतिष्ठा के हिसाब से भी विशेष महत्व रखता है!

3. इन तमाम विशेषताओं के पश्चात भी गाँव के बेहद सँकरे रास्ते, कीचड़ भरी गालियाँ, मद्यपान व धूम्रपान से ग्रसित लोग आदि गाँव की आम समस्या बन चुकी हैं, जिनसे निजात पाना लोहे के चने चबाने जैसा है।

गाँव के ही सपूत और शुभचिंतक श्री गजेन्द्र जी, भगवानदास जी, रंजीत जी, निरंजन जी, राजेश जी आदि अनेक युवाओं ने मिलकर टीम की 8वीं यात्रा को अंजाम तक पहुंचाया। यात्रा के पश्चात गाँव में जो आमूल-चूल परिवर्तन के प्रयास हुये, उनका विवरण इस प्रकार है:-

1. SBGBT यात्रा के फलस्वरूप गाँव के लोगों में जागरूकता और चेतना का जबरदस्त संचार हुआ| लोगों ने टीम के सकारात्मक विचारों से अभिभूत होकर सर्वप्रथम अपने गांव में पूर्णत: शराबबंदी की घोषणा की| परिणाम स्वरूप आज गाँव में पीने वाले लोग बड़ी मात्रा मेन इस व्यसन को पूर्णतः त्यागने में सफल हुए हैं|

2. जनसहभागिता के माध्यम से सँकरे रास्तों को चौडा किया गया| लोगों ने जनजागरुकता का परिचय देते हुए बर्षों से जर्जर अवस्था में पडी मुख्य सड़क के नवनिर्माण हेतु सरकार से वित्तीय स्वीकृति प्राप्त की। सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार सड़क का 40 फीट चौड़ी होना आवश्यक था, लेकिन गाँव में अतिक्रमण के चलते सड़क को चौडा करना चुनौती भरा कार्य था|फिर भी गाँव की युवाशक्ति ने प्रशासन और ग्रामीणों के सहयोग से इस कार्य को अंजाम तक पहुंचाने का बीडा उठाया| तत्काल एक आम सभा का आयोजन करके गाँव में बेहतर क्रियान्वयन के लिए युवा ग्राम विकास टीम का गठन किया गया| टीम के सार्थक प्रयासों से वर्तमान में यह मार्ग गाँव से लेकर विशिनिगिर देवालय तक 40 फीट चौडा करने के प्रयास जारी हैं| इसके साथ ही गाँव के बीच में होकर गुजरने वाले अति सँकरे मार्ग को चौडा करके 16फीट का किया जा रहा है। इस ऐतिहासिक और अभूतपूर्व परिवर्तन में समस्त ग्रामीणों का अतुलनीय योगदान रहा। जिसके चलते आज गाँव के लोगों में अटूट समर्पण और सद्भाव दृश्यमान होता है| इस उचित मार्ग के बनने से आज गाँव की रौनक देखते ही बनती है|

SBGBT की प्रेरणा और जनसहयोग से ऐसे तमाम जनहितैषी कार्य इस गाँव में निरंतर संपन्न हुए हैं। हमें गर्व है, कि आज SBGBT की संघर्ष से सफलता की ओर चलने वाली इस अभूतपूर्व मुहिम से इस क्षेत्र का प्रत्येक गाँव ऊर्जावान और लाभान्वित हो रहा है।

हम आशा करते हैं, कि देश के प्रत्येक गाँव का युवा अपने गाँव की उन्नति व खुशहाली के लिए समर्पित, जागरुक और कटिबद्ध हो। तभी हम एक विकसित देश की कल्पना कर सकते हैं।

टीम की 9वीं यात्रा गाँव कोयला की कहानी लेकर शीघ्र ही पुनः हाजिर होंगे। तब तक के लिए आप सभी सज्जनों का हार्दिक आभार और अशेष मंगलकामनाएं।
धन्यवाद।