रक्षा अलंकरण समारोह में चेतन कुमार चीता

मातृभूमि के लिए प्यार क्या होता है? मातृभूमि के लिए समर्पण क्या होता है? इस का जीता जागता उदाहरण है श्री चेतन कुमार चीता जी और उनके साथी| दोस्तों! देश की रक्षा का दायित्व निभा रहे हमारे सैनिकों पर हमें गर्व है| आज हमारी सीमाएं सुरक्षित हैं और हम देश के अंदर शांतिपूर्वक रह रहे हैं; इसका सबसे बड़ा श्रेय हमारी सेनाओं को जाता है| जिस तरह एक सैनिक अपनी मातृभूमि के लिए सब कुछ न्योछावर कर देता है; उसी प्रकार हम सभी आम नागरिकों का भी कर्तव्य है कि हम निष्ठापूर्वक देश और समाज के उत्थान के लिए काम करते रहें| चेतन कुमार चीता जी हमें आप पर गर्व है| जय हिन्द!